जिंदगी में ख़ुश कैसे रहें | How to be happy in life ?

how-to-be-happy-true-guess


एक बेटी अपने पिता के पास रोती हुई गई,
बेटी ने कहा में थक चुकी हूँ |

जिदगी इतनी मुस्किल है,
एक मुस्किल का सामना करती हूँ तो दूसरी आ जाती है |
मैं ऐसे नही जी सकती |

पिता ने उसकी पूरी बात सुनी,
 और हाथ पकड़ कर बेटी को रसोई में ले गए |

पिता ने तीन पतीले लिए और और उन तीनो पतिलो में पानी डाला,
और पानी को उबालने के गेस पर रख दिया |

उस बेटी के पिता ने एक आलू ,अंडे, कॉफ़ी लेके आए,
बेटी ने फिर पूछा अपने पिता से पापा आप ये सब कया कर रहे है |

पिता ने कोई जबाब नही दिया,
बेटी के पिता ने पहले पतीले में आलू को डाला |
दुसरे में अंडे को डाला और तीसरे में कॉफ़ी को डाला,
और उबलने के लिए गैस पर रख दिया |

बेटी ने अपने पिता से पूछा पापा ये आप क्या कर रहे हो,
पर बेटी के पिता ने कोई जबाब नही दिया |

पिता ने थोड़ी देर बाद अंडे और आलू को गेस से हटाया,
और प्लेट में रखा और कॉफ़ी को कप में डाला |

पिता ने पूछा अपनी बेटी से-तुम्हे क्या दिख रहा है,
बेटी ने कहा- आलू,अंडे और कॉफ़ी |

पिता ने अपनी बेटी से कहा- आलू, अंडे और कॉफ़ी, 
तीनो को एक ही मुश्किल का सामना करना पड़ा,
तीनो को उबलते पानी में डाला |

आलू पहले सख्त और मजबूत था,
पर पानी ने उसको नर्म और निर्बल बना दिया |

अंडा पहले बहुत ही नाजुक था,
लेकिन पानी ने उसको बहुत ही मजबूत बना दिया |

पर कॉफ़ी नही बदली पानी से,
बल्कि कॉफ़ी ने पानी को ही बदल दिया 
और कुछ नया ही बना दिया |

पिता ने फिर अपनी बेटी से पूछा,
तुम इन में से कौन हो-आलू,अंडे या कॉफ़ी |

जब जिदगी में मुश्किले आएगी तब तुम क्या करोगे 

कमजोर बनोगे, या अंदर से सख्त,
या चुनोतियो को अवसरों में बदलने की कोशिश करोगे |

अगर आपको ये सच्ची लाइने पसंद आती है तो शेयर करना न भूले |

Thank You:-
Previous
Next Post »

1 comments:

Click here for comments
HindIndia
admin
5 January 2017 at 22:26 ×

काफी अच्छी कहानी है। काफी प्रेरणादायक ... amazing writing way ... Nice Sandeep Ji!! :)

Congrats bro HindIndia you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar