टीम इंडिया को लगा तगड़ा झटका, रायडू की संदिग्ध गेंदबाज़ी पर उठे सवाल

रायुडू-का-संदिग्ध-गेंदबाजी-एक्शन
Third party image reference

सिडनी में भारत और ऑस्ट्रेलिया (Ind vs Aus) के बीच सीरीज का पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच भारत को 34 रनों से हार का सामने करना पड़ा. साल 2019 के शुरुआत में ही हार्दिक पांड्या और केएल राहुल के रूप में टीम इंडिया को झटका लगा और अब संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन पर बबाल खड़ा हो गया है.

आपको बता दे, शनिवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पहले वनडे में अंबाती रायडू (Ambati Rayudu) ने 2 ओवर की गेंदबाज़ी की थी. मैच के दौरान अंबाती रायडू के गेंदबाज़ी एक्शन को संदिग्ध पाया गया.

मैच अधिकारियों ने इस रिपोर्ट को भारत टीम प्रबंधन को सौंप दिया गया था. 33 वर्षीय ऑफ स्पिनर अंबाती रायडू की गेंदबाजी एक्शन की वैधता के बारे में सवाल उठाए गए है.

अब ICC प्रक्रिया के तहत आगे की जांच की जाएगी. अंबाती रायडू (Ambati Rayudu) को 14 दिनों के भीतर परीक्षण (testing) से गुजरना आवश्यक है, और इस अवधि के दौरान, रायुडू को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी जारी रखने की अनुमति है, जब तक Testing Result सामने नहीं आ जाते तब तक रायुडू गेंदबाज़ी जारी रख सकते है.

अगर ICC प्रक्रिया के दौरान रायडू का संदिग्ध (Doubtful) गेंदबाजी एक्शन पाया जाता है, तो रायडू के साथ-साथ टीम इंडिया को भी तगड़ा झटका लग सकता है. फ़िलहाल टीम इंडिया के पास रायडू के अलावा छठा गेंदबाज़ नहीं है जिससे जरुरत के अनुसार गेंदबाज़ी करवा सके. इस मामले का नतीजा 14 दिनों के भीतर परीक्षण (testing) के बाद ही सामने आ पाएगा.

Leave A Reply

Your email address will not be published.